बुधवार, 18 जुलाई 2012

मूर्खता छोड़ो और दिमाग चलाओ.

एक कम्पनी आयी. कहा, नमक, कोयला आदि खुरदुरे होते हैं और दांतों को खराब कर देते हैं. हमारा पाउडर मुलायम है, सुरक्षित है. अब कहते हैं हमारा टूथपेस्ट अच्छा है क्योंकि इसमें नमक है.. फिर कहा कि दातुन उबड-खाबड़ होती है. हमारा ब्रश समतल है और दांतों की सफाई समान रूप से करता है... अब कहते हैं कि हमारा ब्रश ज़िग-ज़ैग है इसलिए दांतों के बीच भी ठीक से सफाई करता है.. फिर कहा कि हमारा ब्रश लचीला है, कोने-कोने तक जाता है. अँगुली से ज्यादा लचीला है क्या? क्या आपके खाने में आयोडाइज्ड नमक है? जबकि पहाड़ी क्षेत्र के अलावा कही भी अतिरिक्त आयोडीन नमक की जरुरत नही होती
एक व्यक्ति को कितने तरीके से और कितनी बार मूर्ख बनाया जा सकता है, इन विदेशी कंपनियों से सीखिए. और हर बार कैसे तत्परता से मूर्ख बनना भारतीयों से सीखीये. ।

Photo: एक कम्पनी आयी. कहा, नमक, कोयला आदि खुरदुरे होते हैं और दांतों को खराब कर देते हैं. हमारा पाउडर मुलायम है, सुरक्षित है. अब कहते हैं हमारा टूथपेस्ट अच्छा है क्योंकि इसमें नमक है.. फिर कहा कि दातुन उबड-खाबड़ होती है. हमारा ब्रश समतल है और दांतों की सफाई समान रूप से करता है... अब कहते हैं कि हमारा ब्रश ज़िग-ज़ैग है इसलिए दांतों के बीच भी ठीक से सफाई करता है.. फिर कहा कि हमारा ब्रश लचीला है, कोने-कोने तक जाता है. अँगुली से ज्यादा लचीला है क्या? क्या आपके खाने में आयोडाइज्ड नमक है? जबकि पहाड़ी क्षेत्र के अलावा कही भी अतिरिक्त आयोडीन नमक  की जरुरत नही होती
 एक व्यक्ति को कितने तरीके से और कितनी बार मूर्ख बनाया जा सकता है, इन विदेशी कंपनियों से सीखिए. और हर बार कैसे तत्परता से मूर्ख बनना  भारतीयों से सीखीये. ।
 तो भाई मूर्खता छोड़ो और दिमाग चलाओ. सुंदर, स्वस्थ और चमकदार दांतों के लिये चौथाई चम्मच नमक में कुछ बूँद सरसों का तेल डालकर अँगुली से दाँत साफ़ कीजिये और नीम की दांतून मिले तो उसका उपयोग कीजिये । ये भी ना मिले तो …
डाबर ,विको या पंतजली के उत्पाद काम में लिजिये स्वदेशी है और आयुर्वेदिक भी । 
पोस्ट शेयर करे ,
 समझे और समझाये , इन बहुराष्ट्रीय कंपनियो के झांसे में ना आये 
https://www.facebook.com/Faceb00kChoupal
तो भाई मूर्खता छोड़ो और दिमाग चलाओ. सुंदर, स्वस्थ और चमकदार दांतों के लिये चौथाई चम्मच नमक में कुछ बूँद सरसों का तेल डालकर अँगुली से दाँत साफ़ कीजिये और नीम की दांतून मिले तो उसका उपयोग कीजिये । ये भी ना मिले तो …
डाबर ,विको या पंतजली के उत्पाद काम में लिजिये स्वदेशी है और आयुर्वेदिक भी ।
पोस्ट शेयर करे ,
समझे और समझाये , इन बहुराष्ट्रीय कंपनियो के झांसे में ना आये 





नोट : इस ब्लॉग पर प्रस्तुत लेख या चित्र आदि में से कई संकलित किये हुए हैं यदि किसी लेख या चित्र में किसी को आपत्ति है तो कृपया मुझे अवगत करावे इस ब्लॉग से वह चित्र या लेख हटा दिया जायेगा. इस ब्लॉग का उद्देश्य सिर्फ सुचना एवं ज्ञान का प्रसार करना है

copy disabled

function disabled