यह ब्लॉग खोजें

सोमवार, 11 अक्तूबर 2021

दशहरा आएगा तो कम से कम एक करोड़ हिंदुओं की तस्वीरें शस्त्र के साथ पूजा करते हुए सोशल मीडिया पर होनी चाहिए

विजय दशमी पर हर हिंदू को शस्त्र पूजा करनी है... और अपनी तस्वीर सोशल मीडिया पर पोस्ट करनी है... ये शस्त्र सूक्तियां आज नोट कर लें... 

-शस्त्र निष्क्रिय होते हुए भी सक्रिय होता है... मतलब अगर वो कहीं किसी आलमारी में पड़ा पड़ा जंग खा रहा हो तो भी अपना काम करता रहता है उसकी मौजूदगी ही शत्रुओं के बुरे और कुत्सित विचारों को नष्ट करने के लिए काफी होती है ।

-दुनिया में अशांति इसलिए है क्योंकि सज्जनों ने शस्त्रों का त्याग कर दिया है और दुर्जन सदैव की तरह शस्त्रों से लैस हैं यही वजह है कि दुर्जन हावी हैं और धरती पर अनाचार फैलता जा रहा है 

-दुनिया को दो हिस्सों में बांटा जा सकता है एक जिनके पास शस्त्र होता है और दूसरा जिनके पास शस्त्र नहीं होता है...  जिनके पास शस्त्र होता है वो सदैव निडर और वीर बने रहते हैं और जिनके पास शस्त्र नहीं होते हैं और वो सदैव भयभीत होते हैं और कायर पुरुष बने रहते हैं

-जिस घर में अस्त्र शस्त्र होते हैं उस घर की स्त्रियों पर कभी किसी की कुदृष्टि डालने की हिम्मत भी नहीं होती है और जिनके घर में अस्त्र शस्त्र नहीं होते हैं उनकी स्त्रियों के साथ राह चलते छेड़खानी होती है लव जिहाद जैसी घटनाएं होती हैं और वो सदैव थाने के चक्कर ही लगाते रह जाते हैं... उन्हें बदनामी के सिवाय कभी कुछ हासिल नहीं होता है 

-सत्यमेव जयते... यानी सत्य की ही विजय होती है इस तरह की सूक्तियों के भरोसे बैठने से कोई फायदा नहीं है... सत्य तो हिंदुओं के साथ ही है फिर उनका पलायन क्यों हो रहा है ? सत्य तो युद्धिष्ठिर के साथ था लेकिन फिर भी वन वन भटकते रहे... जब युद्धिष्ठिर ने शस्त्र उठाया तभी सत्यमेव जयते हुआ । इसीलिए अब कहावतें बदल गई हैं... ये कलियुग है और कलियुग में सदैव शस्त्र मेव जयते होता है... यानी जिसके पास शस्त्र होगा उसी की विजय होगी । इसलिए शस्त्र की खरीद करो... अपने पास सदैव शस्त्र रखो ।

-ज्योतिष के हिसाब से भी ध्यान दें... शस्त्र का मतलब है... मंगल ग्रह... अगर आपके पास शस्त्र है तो आपका मंगल मजबूत है और अगर आपका मंगल मजबूत है तो आप शत्रुओं पर सदैव विजय प्राप्त करते रहेंगे... इसलिए अपनी भुजाओं को शस्त्रों से मजबूत करें ।

- एक बार अपने हाथ में शस्त्र लेकर देखो... तब आपको ये महसूस होगा कि देशद्रोही शत्रु चींटियों के समान हैं। शस्त्र का होना ही  आत्मविश्वास वर्धक महान मानसिक औषधि है इसका नित्य सेवन करते रहो ।

- राष्ट्र के शत्रुओं की संख्या गिनकर चिंता में मत पड़ो... चिंता सदैव इस बात की करो कि तुम्हारे पास कितने अस्त्र शस्त्र है... सदैव सुनिश्चित करो कि तुम्हारे अस्त्र शस्त्रों की संख्या तुम्हारे शत्रुओं की संख्या से ज्यादा हो
 
- जैसा को तैसा जवाब देना सीखो... शिकायत मत करो... शिकायत लेकर किसके पास जा रहे हो... ये संविधान... कानून... प्रशासन और व्यवस्था सिर्फ उनके लिए है जो शक्तिशाली हैं । कायर लोगों का साथ तो भगवान भी नहीं देता.. कायर लोग सिर्फ शिकायत करते रह जाते हैं... इतने दिनों में आपको ये अवश्य महसूस हुआ होगा कि प्रशासन भी सदैव अत्याचार करने वाले शक्तिशालियों का साथ ही देता है 

- अपनी सुरक्षा की ज़िम्मेदारी खुद लो... कोई सेना... कोई सरकार तुमको बचाने नहीं आएगी... जब तुम पर संकट आएगा तो उस वक्त तुम और सिर्फ तुमको ही उसका सामना करना होगा... तुम्हारे सिवाय कोई तुम्हारी प्राण रक्षा नहीं कर सकेगा । 

- इसीलिए नियमानुसार शस्त्रों का संचय करो... सदैव पराक्रमी बनो... सज्जन बनो लेकिन कायर नहीं... शस्त्र धारण करके सज्जन बनो तभी तुम्हारी सज्जनता सुशोभित होगी । 

- इस सूक्ति का नित्य पठन करते रहें “कोई सिंह को, वन के राजा के रूप में अभिषेक या संस्कार नहीं करता है अपने पराक्रम के बल पर सिंह स्वयं जंगल का राजा बन जाता है”  

- इस पोस्ट को एक अभियान की तरह धीरे धीरे आगे बढ़ाइए । जब दशहरा आएगा तो कम से कम एक करोड़ हिंदुओं की तस्वीरें शस्त्र के साथ पूजा करते हुए सोशल मीडिया पर होनी चाहिए । हमारे शूरवीरों की इन तस्वीरों को देखकर ही देशद्रोहियों के हौंसले पस्त हो जाएंगे । ऐसा मेरा विश्वास है ।

आतंकवादी नस्ल के आदमखोर दानव रूपी भयंकर राक्षसो के समूल विनाश के लिए

🚩🇮🇳🚩🇮🇳🚩🇮🇳🚩🇮🇳🚩🇮🇳
                 हर हर हर महादेव 
              जय माँ कात्यायनी की

बिहार के सासाराम और गया जिले मे 
                  गोरखनाथ गुरूकुल
हॉस्टल-स्कूल का शुभारम्भ करने 
कोंन-कोंन, कट्टर-धर्मनिष्ठ हिन्दु योद्धा पहुँचने वाले है ?  
पर्सनल मैसेज करके अपना परिचय अवश्य दे 
ताकि आपके रहने-खाने और ठहरने की उचित व्यवस्था की जा सके।
 
19 अक्टूबर को आपस मे सलाह करके 
उचित मुहूर्त निकाल कर  
गोरखनाथ गुरूकुल   
                         हॉस्टल-स्कूल 
का शुभारम्भ कर दिया जाएगा। 

हिन्दु- हिन्दु चिल्लाने वाले नकली हिन्दु दूर रहे 
           श्री गोरखनाथ पीठ ट्रस्ट 
परिवार से - वस कट्टर हिन्दुओ को ही आमंत्रित किया जा रहा है देश और धर्म की रक्षार्थ।

यदि आप भी अखण्ड भारत का पुनःनिर्माण करना चाहते है ।
जो तालिबानी जमात के आदमखोर राक्षसो की भाषा मे
उनसे 
अधिक शक्तीशाली हथियारो से 
आतंकवादी नस्ल के भेड़ियो का अंत करने की इच्छा शक्ति रखते है वो सादर आमंत्रित है। 

यदि आप कट्टर-धर्मनिष्ठ हिन्दु है और आप भी चाहते है 
कि अब भारत अपने पूर्ण स्वरूप मे आकर 
अपने स्वामित्व की शक्ति को परिभाषित करे 
तो आप अपने अपने जिले मे हमे भूमि भवन दान स्वरूप प्रदान करे 
या तन-मन और धन से मदत करे 

यदि आप गोरखनाथ गुरुकुलम हाँस्टल-स्कूल स्थापित करने की इच्छा शक्ति रखते है 
तो मै आपको भूमि और भवन दूँगा।

आप स्वयम पुरूषार्थ करके गुरुकुलम हाँस्टल-स्कूल स्थापित करे ।
अपने ईष्ट-मित्रो , सगे-संबंधियो, उद्योगपतियो , सरकारी व गैस सरकारी अधिकारीगणो की सहायता प्राप्त करके 
गुरूकुल हाँस्टल-स्कूलो मे
इंग्लिश मीडियम के साथ-साथ पौराणिक परंपरागत 
वेद-पुराण , गीता-रामायण गुरुग्रंथ साहिब , जैन , बुद्धिस्ट धर्म-शस्त्र , शास्त्र और शास्त्रोक्त वैदिक योद्धाओ का सृजन करके
हर घर मे राम और कृष्ण जैसे धर्मनिष्ठ योद्धाओ का सृजन करे। 
आपके इस प्रयास से अगले 15 वर्षो के बाद संपूर्ण भारत संस्कृत मे बात कर रहा होगा। 
हमे हिन्दु हिन्दु चिल्लाने की तथा हिन्दुओ को जगाने की आवश्यकता नही होगी 
क्योकि गुरूकुलो मे।पढ़ने वाले चंद्र गुप्त मौर्य और रानी लक्ष्मीबाई 
देश धर्म के विरोधी-आस्तीन के साँपो के फन को कुचल देंगे। 

वर्तमान मे हम सभी को मिलकर गजबा ऐ हिन्द के 
आतंकवादी नस्ल के आदमखोर दानव रूपी भयंकर राक्षसो के समूल विनाश के लिए 

भगवा ऐ अखण्ड भारत की खूनी सेना अर्थात महाकाल सेना का सृजन करके 
इन मानवता-इंसानियत के दुश्मन का अंत करना अनिवार्य है

क्या आप तैयार है 
          श्री गोरखनाथ पीठ ट्रस्ट
 परिवार की शक्ति बनने के लिए 
आतंकवादी नस्ल के आदमखोर दानव रूपी भयंकर राक्षसो के समूल विनाश के लिए 

क्या आप तैयार है अपनी कमाई का एक हिस्सा 
देश धर्म की रक्षार्थ महाकाल सेना को समर्पित करने के लिए।

 🚩देवी-देवता बिजनेस पार्टनर🚩
क्या आप तैयार है अपने कुल के देवी-देवता/ माता रानी/ बजरंग बली/ आदि किसी भी देवता को अपना बिजनेस पार्टनर बनाकर अपना व्यापार बिजनेस करने के लिए ।

यदि आप ऐसा करते है तो निश्चित ही आपके पार्टनर देवी देवता 
जिसमे भी आप आस्था रखते है यकीनन जितने % की भी आप पार्टनरशिप रखेंगे 
उतने पैसे से गोरखनाथ गुरूकुल हॉस्टल-स्कूल समूचे भारत मे ही नही बल्कि समूचे विश्व मे स्थापित हो जाएगे। 

आपका व्यवसाय बिजनेस आपके देवी-देवता फेल नही होने देंगे 
एक बार आप सच्चे मन से देवी देवताओ को अपना पार्टनर बनाकर देखे देश धर्म की रक्षार्थ 
फिर देखना आपका व्यवसाय बिजनेस कितनी तीव्रतम गति से आगे बडेगा। 

हम और आप मिलकर देवी-देवताओ की मदत से गुरूकुल-मठ,मंदिर और आश्रमो के द्वारा पुनः सनातन धर्म की रक्षा व पुनः स्थापना कर देंगे ।

हम और आप मिलकर पुनः मृत पड़े सनातन-धर्म की रक्षार्थ अपने पौराणिक परंपरागत सनातन-संस्कार सभ्यता को पुनर्जीवित कर देंगे। 

क्या आप आ रहे है सासाराम और गया जिले मे 
गोरखनाथ गुरूकुल  
      हॉस्टल-स्कूल का शुभारम्भ
करवाने के लिए। 
क्या आप भी सासाराम और गया जिले की पवित्र मिट्टी का तिलक अपने ललाट पर करेंगे ।

मैं संजय वशिष्ठ 
राष्ट्रीय अध्यक्ष -: श्री गोरखनाथ पीठ ट्रस्ट 
फोन-: 7500654481
परिवार की तरफ से आपका आवाह्न करता हूँ 
कि आप 18 अक्टूबर के बाद फोन करके सासाराम और गया जिले मे 
गोरखनाथ गुरूकुल हाँस्टल-स्कूल का शुभारंभ करने के लिए सादर आमंत्रित है। 

क्या आप मेरा निमंत्रण स्वीकार करेंगे ?
कट्टर हिन्दु होगे तो अवश्य ही स्वीकार करेंगे। 

सहयोग समर्थन के लिए 
बैंक का नाम - डिस्ट्रिक्ट को-ऑपरेटिव बैंक लि, देहरादून 
खाता धारक-: श्री गोरखनाथ पीठ ट्रस्ट देहरादून 
चालू खाता-: 000135003100003
IFSC CODE -:  YESB0DZSBO2 
फोन पै , गूगल पै, व पे टी एम नंबर 9456703230

ॐ शिव-गोरक्ष आदेश अलख निरंजन आदेश

function disabled

Old Post from Sanwariya