रविवार, 20 मार्च 2011

जुलम हो गया,सितम हो गया


जुलम हो गया,सितम हो गया
काला था, अब लाल हो गया
भोले श्याम पर जुलम हो गया
जुलम हो गया,सितम हो गया
काला था, अब लाल हो गया 
राधा ने किया नजरो से इशारा
सखियों ने टोली को रंग डाला 
भोला श्याम अब लाल हो गया
जुलम हो गया,सितम हो गया
काला था, अब लाल हो गया
राधा ने नजरो से रंग डाला
जग को माया से रंगने वाला
भक्तो के रंग में रंग आया
जुलम हो गया,सितम हो गया
काला था, अब लाल हो गया
राधे रानी से सरदार हारा
जुलम हो गया,सितम हो गया
काला था, अब लाल हो गया

बरसाने में वृन्दावन बिहारी
लाल हो गया

copy disabled

function disabled