मंगलवार, 14 जून 2011




क्या कुछ भारतीय मिडिया कांग्रेस & बड़े उद्योगपतियों के हाथो कि कटपुतली है ?
क्या कांग्रेश ने कुछ भारतीय मिडिया को भी काले धन के दम पर खरीद रखा है ?
क्या मिडिया वास्तव में स्वतंत & निष्पक्ष है ? कांग्रेस से आतंकित तो नहीं है ?
कुछ मिडिया लगता है कि सरकार और बडे नेताओ के हातो कि कटपुतली है तथा क्या अन्य मिडिया उनके पीछे पीछे नकल करने लगते है ?
मिडिया से जनता सवाल नहीं पूछ सकती क्या एसा कोई कानून है ? क्या मिडिया कि comment & बातो से पक्छ पात का अहसास होता है ?
आज ७/६/११ श्याम को इंडिया लाइव ने बाबा के औरतो कि आड़ में उनके खंधो पर सर रख उनकी सुरक्छा में निकलने कि विडिओ बताई पर एक बार वो भी पहले हमने पाई पहले हमने पाई कहते हुए ! प्रश्न बनता है कि यदि इतनी अहम विडियो पहले आपने जुटी तो एक बार बता के चेनल से हटा क्यों ली
मिडिय कांग्रेश से मुद्दे कि बात क्यों नहीं उठता ? या अगर उठाये तो भी थोड़ी देर चलते क्यों है ?
मीडिया कालेधन/भ्रस्ताचार/मुख्यत घोटालो कि बात क्यों नहीं उठता ?
क्या मिडिया भ्रस्टाचार & काले धन को मिटाना नहीं चाहता ?क्या देश से प्रेम नहीं ?भारत के मिडिया को भी कुछ अधिकार है और कुछ दायित्व है !

An Indian
अगर प्रश्न अच्हे लगे तो अग्रेषित जरूर करे वरना देश के लिए तो जरू करे !
Please, forward it for own country & DeshDharma ................Jai Hind ...


नोट : इस ब्लॉग पर प्रस्तुत लेख या चित्र आदि में से कई संकलित किये हुए हैं यदि किसी लेख या चित्र में किसी को आपत्ति है तो कृपया मुझे अवगत करावे इस ब्लॉग से वह चित्र या लेख हटा दिया जायेगा. इस ब्लॉग का उद्देश्य सिर्फ सुचना एवं ज्ञान का प्रसार करना है

copy disabled

function disabled