सोमवार, 25 जुलाई 2011

पहले पढाया जाता था

पहले  पढाया  जाता  था "ग" से "गणेश" , जिस शब्द  से बच्चा बुद्धि ,धर्म, भगवान गणेश,पितृ सेवा और संस्कृति सीखता था पर हमारी सरकार को पसंद नहीं आया ! सरकार कहने लगी इससे साम्प्रदायीक्ता फैलती है, इसलिए अब पढ़iना प्रारम्भ किया गया "ग" से "गधा"   !

परम तत्व को भूल बच्चा  क्या सीखेगा ?सिर्फ नाशवान भौतिक सुख के लिए कर्म करना और उनके पीछे भागना ! अधर्मयता !
Jannat Paana 
..........................................................................................
अधर्म कि घिरी घटा कुचक्र है पनप रहे 
पुण्य धर्म भूमि पर अधर्म कर्म बढ़ रहे 
व्यथा विशाल राष्ट्र कि    
आज हम समझ सके, विशुद्ध राष्ट्र भाव से ,  
ये देश महक उठे   

copy disabled

function disabled