मंगलवार, 29 मई 2012


जागो, हिंदुस्तान के हिन्दुवों.... जागो : एक जनवरी (नववर्ष उत्सव) भारतीय संस्कृति पर पश्चिमी संस्कृति का आतंक......
अंग्रेजी नववर्ष का उत्सव न मनायें..... हिन्दू नववर्ष मनायें !!!

भारतीय संस्कृति पर पश्चिमी संस्कृति का प्रभाव इस कदर छा गया है क़ि हम भारतीय अपने सारे रीती-रिवाज शन: शन: भूलते जा रहे है l अंग्रेजों का नया साल आने वाला है, जिसे मनाने के लिए सभी* हिन्दू जोर-शोर से लग जाते है, जब क़ि हिन्दुवों का नववर्ष कब आकर चला जाता है, ये उनको पता ही नहीं चलता l नवयुवकों को अपने घर के बड़े-बुजुर्गों से यह जानना चाहिए क़ि हिन्दू नववर्ष आप लोग कैसे मानते थे ?
हिन्दुवों का साल विक्रम सम्वत होता है, जो क़ि अभी 2068 चल रहा है और 23 मार्च 2012 को नया विक्रम सम्वत 2069 चालू होगा l जब सारे त्यौहार (जितने भी हिन्दू त्यौहार) हिन्दू कैलेण्डर वर्ष से मनाये जाते है, तो फिर नया साल अंग्रेजी क्यों.......???
सोचे, समझें और विचार करें....... यह दृढ निश्चय करें क़ि मुझे हिन्दू नया साल मनाना है, अंग्रेजी नया साल मनाने नहीं जाना है या नहीं मानना है l

नया हिन्दू वर्ष कैसे मानते है ?
जहाँ तक मुझे मालूम है.... हमारे बड़े-बुजुर्ग हिन्दू नववर्ष के दिन सवेरे जल्दी नहाकर मन्दिर जाया करते थे और नये कपड़े पहना करते थे, इसके साथ ही मन्दिर में भगवान की मूर्ति को 'नीम' और 'मिश्री' अर्पण करते थे और फिर प्रसाद स्वरुप पाते थे, लेकिन आजकल ये सभी प्रथायें धीरे-धीरे गौण होती जा रही है l यदि आप सभी हिन्दू लोग समय रहते नहीं जागे, तो ये सभी प्रथायें निश्चित ही लुप्त हो जाएगी l हालाँकि, भारत वर्ष में ही नहीं पुरे विश्व में सरकारी या बिज़नस सम्बन्धी सारे कार्य अंग्रेजी वर्ष में ही होते है l ये हम लोगो क़ि मजबूरी है, जो माननी ही पड़ती है l
इसके अलावा जब सारे त्यौहार इत्यादी हिन्दू कैलेण्डर वर्ष से मनाये जाते है तो फिर नया साल हिन्दू वर्ष वाला क्यों नहीं ???
मेरे सभी मित्रो, भाइयो, माताओं-बहनों, बन्धुवों व हर भारतीय से निवेदन है क़ि आने वाला अंग्रेजो का नया साल न मनाकर हिन्दुवों का नया साल मनावें l भारतीय संस्कृति को जिन्दा रखें और पश्चिमी संस्कृति को भूलें l अंग्रेजी नये वर्ष की बधाई देना बुरी बात नहीं है, परन्तु हिन्दू नववर्ष को भूलकर उसे मनाना, हिन्दू संस्कृति का अपमान है l आप सभी से सहयोग क़ि आशा में, धन्यवाद !!!

आपकी जानकारी के लिए बता दूँ क़ि नया हिन्दू वर्ष 23 मार्च 2012 को चालू होगा l जिसकी जानकारी समय पर आप सभी को दी जाएगी l नया हिन्दू वर्ष नये सूर्योदय से माना जाता है, न क़ि जिस समय पुराना संवत्सर समाप्त हो उस समय से l अत: नव हिन्दू वर्ष 23 मार्च 2012 को चालू होगा न क़ि 22 मार्च को l आप सभी से निवेदन है की इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें और सभी तक पहुंचावें, धन्यवाद !!!


नोट : इस ब्लॉग पर प्रस्तुत लेख या चित्र आदि में से कई संकलित किये हुए हैं यदि किसी लेख या चित्र में किसी को आपत्ति है तो कृपया मुझे अवगत करावे इस ब्लॉग से वह चित्र या लेख हटा दिया जायेगा. इस ब्लॉग का उद्देश्य सिर्फ सुचना एवं ज्ञान का प्रसार करना है

copy disabled

function disabled