शुक्रवार, 19 अप्रैल 2013

गर्मी में खानपान पर विशेष

गर्मी की शुरुआत हो रही है। चिकित्सक इन दिनों में खानपान पर विशेष ध्यान देने की सलाह देते हैं, ओर हमें ज्यादा से ज्यादा पेय पदार्थो का सेवन करने को कहते हैं। वजह ये है, कि गर्मी के दिनों में खूब पसीना निकलता है। इसके साथ ही शरीर से जरूरी मिनरल और साल्ट भी निकल जाते हैं। डिहाइड्रेशन (पानी की कमी) न हो, इस लिए डाक्टर ज्यादा से ज्यादा पानी और पेय पदार्थ लेने की सलाह देते हैं। तो इन गर्मियों में आप और आपका परिवार इन समस्याओं से दुखी न हों गर्मी के साथियो के बारे में जानने का समय हे। इनका सेवन कर आप स्वस्थ बने रह सकते हें।
****************

वर्तमान में गर्मी से बचने हेतु निम्न वस्तुओं का आनंद लेकर ग्रीष्म ऋतु का मुकावला किया जा सकता है।
******
ठंडाई-- पोस्ता दाना, कालीमिर्च, खरबूजे ओर ककड़ी के बीज,आदि से बनी गर्मी को दूर भगाने के लिए आप ठंडाई पी सकते हैं। भरी धूप में चलकर आने वाले मेहमानों का स्वागत भी चाय से न करके ठंडाई से करें, तो क्या कहने! इन दिनों बाजार में बने बनाए फ्लेवरों में ठंडाई उपलब्ध है। बस, जरूरत है दूध और शक्कर की। गिलास भर दूध में मिलाएं दो चम्मच ठंडाई और दो चम्मच चीनी। फिर मस्त हो पीएं और पिलाएं!
******************

अमरस या मैंगों शेक - फलों का राजा आम गर्मियों में ही होता है। दूध के साथ इसे मिक्सी में मेश करें। ऊपर से स्वादानुसार चीनी या शहद डाल लें। बस बन गया मैंगो शेक! गर्मियों में रोजाना इसका सेवन करें।
*******************

पना या कच्चे आम का शर्वत-- इसके स्वाद ओर लाभ का कोई जवाव नहीं अतिथि सत्कार में इसे पेश करना मानो ग्रीष्म ऋतु के मारे को अमृत पिलाने जसा होता हे। बनाना भी आसान हे । बस कच्चे आम को पानी में पकाए, ठंडा कर मसलकर गुठली छिलका हटा कर मिक्सर में मथ कर छान लें, शक़्कर चुटकी भर नमक, ओर पिसा जीरा मिला कर पीयेँ ओर पिलाएँ ओर गर्मी, लू लगना[सन स्ट्रोक] पानी की कमी आदि से स्वयं ओर परिवार सहित मित्रों को बचाएं।
***************************

नींबू पानी - नींबू पानी भारत का पारंपरिक पेय पदार्थ है। गर्मी के दिनों में सुबह उठते ही नींबू पानी का सेवन करें। इसे बनाने के लिए एक ग्लास पानी में एक नींबू, चीनी (स्वादानुसार) और काला नमक मिला लें। इसे रोज पीने से लू नहीं लगती।
*****************************

मसाला छाछ ओर लस्सी -- गर्मियों में छाछ का सेवन खाने के साथ नियमित रूप से करें। यह भोजन को पचाने में मदद करता है। दही Curd खाना इस ऋतु में हानि कारक है, पर मथ कर बनाई लस्सी लाभद्यक हे। पर बर्फ का प्रयोग कभी न करें। ठंडा करने के लिए बरफ या फ्रिज में रखा जा सकता हे, पर अधिक ठंडा हानी कारक ओर प्यास बढ्ने वाला होता है।
************************************************

पानी वाले फल, सब्जियां --- गर्मी के दिनों में ऐसे ढेर सारे फल और सब्जियां बाजार में उपलब्ध होते हैं जिनमें प्रचुर मात्रा में पानी होता है। इनमें तरबूज, खरबूज, खीरा, ककड़ी, संतरा, मोसम्बी, आदि प्रमुख हैं। गर्मियों में इनका ओर इनके रस का जमकर सेवन जरूर करें।

copy disabled

function disabled