रविवार, 27 फ़रवरी 2011

सिर्फ पाने का मतलब प्यार नहीं होता !

हर ख़ामोशी का मतलब इंकार नहीं होता ,
हर नाकामयाबी का मतलब हार नहीं होता ,
क्या हुआ अगर हम उन्हें पा ना सके 
सिर्फ पाने का मतलब प्यार नहीं होता !

copy disabled

function disabled