गुरुवार, 3 जुलाई 2014

एक समय था जब मन्त्र काम करते थे

एक समय था जब मन्त्र काम करते थे
उसके बाद समय आया उसमे
तन्त्र काम करते थे
फिर समय आया जिसमे यंत्र काम करते थे
आज समय आया जिसमे षडयंत्र काम करते है

copy disabled

function disabled